राज्य स्तरीय फेंसिंग ट्रेनिंग में सरगुजा जिला के बालक – बालिकाओं ने फेंसिंग की तीनों विधा को नजदीक से जाना


सरगुजा के बालक – बालिकाओं ने फेंसिंग का हुनर सिखा

राज्य स्तरीय फेंसिंग ट्रेनिंग में सरगुजा जिला के बालक – बालिकाओं ने फेंसिंग की तीनों विधा को नजदीक से जाना
राज्य स्तरीय फेंसिंग ट्रेनिंग में सरगुजा जिला के बालक – बालिकाओं ने फेंसिंग की तीनों विधा को नजदीक से जाना

आज दिनांक 17 अक्टूबर दिन रविवार को गांधी स्टेडियम में राज्य स्तरीय फेंसिंग ट्रेनिंग प्रोग्राम का उद्घाटन शैलेन्द्र प्रताप सिंह सचिव – प्रदेश कांग्रेस कमेटी, आलोक सिंह (विधानसभा अध्यक्ष) प्रिष विश्वकर्मा ब्लाक उपाध्यक्ष कांग्रेस कमेटी, आषिश सिल प्रदेश उपाध्यक्ष युथ इंटेक, शौभिक दासगुप्ता, अभिमन्यु सिंह,
फेंसिंग (तलवारबाज़ी) ओलम्पिक खेलों में शामिल हैं, यह एक कम्बेट स्पोर्ट्स है, जिसमें व्यक्तिगत एवं टीम इवेंट खेले जाते है यह खेल तीन विधाओं में खेले जाते है, फॉयल इवेंट, इटली से जन्मा है इस विधा में शरीर क़े ऊपरी हिस्सा, कमर से ऊपर गले क़े नीचे एवं पीठ का हिस्सा लक्षित स्थान(टारगेट एरिया) वेपन की साइज 110 सेमी, वज़न 500ग्राम होता है।
एपी इवेंट फेंसिंग की दूसरी विधा है , इसमें टारगेट एरिया सम्पूर्ण शरीर होता है, वेपन की लम्बाई 110 सेमी एवं वज़न 770 ग्राम होता है,तीसरा इवेंट जो सबसे तेज़ गति से खेला जाता है वो सेबर इवेंट है इसी इवेंट में सी ए भवानी देवी ने ओलम्पिक खेलों में शुमार हुई थी और देश का नाम पुरे विश्व विख्यात किया, इसके वेपन की लम्बाई भी 110 सेमी. एवं वज़न 510 ग्राम होती है,
फेसिंग खेल की तकनीक फुटवर्क, वेपन वर्क,लांच, फिलच,
मुख्य तकनीक है.
फेंसिंग खेल का वर्तमान में पुरे भारत वर्ष क़े साथ-साथ छत्तीसगढ़ में उज्जवल भविष्य है , वर्तमान में छत्तीसगढ़ राज्य से केरल क़े साईं अकादमी में पाँच खिलाडी शामिल, ये सभी अंतराष्ट्रीय स्तर पर भारत ला प्रतिनिधित्व कर चुंकि है, एवं दो खिलाडी खेलों इंडिया क़े अंतर्गत नडियाद (गुजरात)में प्रशिक्षण ले रही है,
छत्तीसगढ़ की पोजशीन भारत में पदक तालिका में बालक वर्ग में तीसरा स्थान, और बालिका वर्ग में चौथे स्थान में है,
वर्तमान में छत्तीसगढ़ में उत्कृष्ट खिलाडी में आठ बालिका, एवं चार बालक में से दो एयरफोर्स, दो आर्मी में शामिल है, फेंसिंग खेल से खिलाड़ियों क़ो रोजगार क़े क्षेत्र मेंभी भविष्य सुखद है,
इस कार्यक्रम को सफल बनाने में डी. के. सोनी, आकाश सेठी, हरमिन्दर सिंह भामरा, गौरव सिंह, भीम सिंह, अभिमन्यु सिंह, आकाश चौपड़ा, मरियम एडगी, प्रिया जायसवाल, रींकी सिंह, प्रिंयका पैकरा, दिलीप गुप्ता, नवीन पावले एवं अन्य सभी खिलाड़ी।

Leave a comment

Your email address will not be published.